December 2020

भागीरथ मेघवाल की रचनाएँ

खिड़कियाँ खोल दो वक़्त के सामने दीवार बनकर खड़े मत रहो। लकीर के फ़क़ीर बनकर अड़े मत रहो। बन्दरिया के…

3 weeks ago

भागवतशरण झा ‘अनिमेष’ की रचनाएँ

दाग़ चेहरे पर चेचक के दाग़ भले ही नहीं लगते हैं अच्छे मगर वे संत की तरह मन की व्यथा…

3 weeks ago

भवेश दिलशाद की रचनाएँ

बहुत बरदाश्त कर ली है मियां ये दुनियादारी क्या बहुत बरदाश्त कर ली है मियां ये दुनियादारी क्या जुनूं दिल…

3 weeks ago

भवानीप्रसाद मिश्र की रचनाएँ

चलो गीत गाओ, चलो गीत गाओ चलो गीत गाओ, चलो गीत गाओ। कि गा - गा के दुनिया को सर…

3 weeks ago

भरत व्यास की रचनाएँ

आधा है चंद्रमा, रात आधी आधा है चंद्रमा रात आधी रह न जाए तेरी मेरी बात आधी, मुलाक़ात आधी आधा…

3 weeks ago

भरत प्रसाद की रचनाएँ

मेरी मातृभूमि  ओ मेरी विशाल और महान मातृभूमि मैं आज तुम्हारी ममतामयी धूल और मिट्टी को साष्टांग प्रणाम करता हूँ।…

3 weeks ago

भरत तिवारी की रचनाएँ

सारे रंगों वाली लड़की-1 सारे रंगों वाली लड़की कहाँ हो? आम के पेड़ में अभी–अभी जागी कोयल धानी से रंग…

3 weeks ago

भगवान स्वरूप कटियार की रचनाएँ

हम फ़ौलाद के गीत गाएँगे विनायक सेन के प्रति हम फ़ौलाद के गीत गाएँगे दुनिया फ़ौलाद की बनी है और…

3 weeks ago

भगवत् रसिक की रचनाएँ

लखी जिन लाल की मुसक्यान लखी जिन लाल की मुसक्यान। तिनहिं बिसरी बेद-बिधि जप जोग संयम ध्यान॥ नेम ब्रत आचार…

3 weeks ago

भगवतीप्रसाद द्विवेदी की रचनाएँ

निंदिया आ री निंदिया, तू है कितनी प्यारी, बिटिया की अंखियों में आ री! आ जा फुदक-फुदक चिड़िया-सी रुनझुन-गुनगुन गाती,…

3 weeks ago