अलका मिश्रा

अलका मिश्रा की रचनाएँ

तेरा ही आस्ताना चाहती हूँ तेरा ही आस्ताना चाहती हूँ यहीं धूनी रमाना चाहती हूँ है मेरी रूह इक गहरा…

3 months ago