मलेश भट्ट ‘कमल’

कमलेश भट्ट ‘कमल’ की रचनाएँ

हाइकु कौन मानेगासबसे कठिन हैसरल होना। प्रीति, हाँ प्रीतिदुनिया में सुख कीएक ही रीति । आप से मिलेतो लगा क्या…

2 months ago