भगवती प्रसाद द्विवेदी

भगवती प्रसाद द्विवेदी की रचनाएँ

दरक गइल दरपन सूख गइल सरिता उमंग के, कुम्हिला गइल सुमन, कहाँ निरेखीं आपन सूरत, दरक गइल दरपन। अँगना में…

4 months ago