रम्ज़ आफ़ाक़ी

रम्ज़ आफ़ाक़ी की रचनाएँ

घर है तिरा तू शौक़ से आने के लिए आ घर है तिरा तू शौक़ से आने के लिए आ…

11 months ago