राजेन्द्र गौतम

राजेन्द्र गौतम की रचनाएँ

डल से लोहित तक ये बादल डल से लोहित तक ये बादल ख़बरें ही बरसाते । रोज़ विमानों से गिरतीं…

2 weeks ago