शंभुनाथ तिवारी

शंभुनाथ तिवारीकी रचनाएँ

उलझे धागों को सुलझाना मुश्किल है  उलझे धागों को सुलझाना मुश्किल है नफरतवाली आग बुझाना मुश्किल है जिनकी बुनियादें खुदग़र्ज़ी…

3 months ago