सरोज परमार

सरोज परमार की रचनाएँ

टूटे पंखों वाली चिड़िया अलसुबह जब तुम नर्म घास घास पर हल्के-से पाँव रखते हो तुम्हारे पिछवाड़े की गली में…

2 months ago