सर्वत एम जमाल

सर्वत एम जमाल की रचनाएँ

नज़्में बाढ़ या सूखा ..... पीठ पर, लोगों ने फिर रख लीं सलीबें हैं, हाकिमों के हाथों में शायद जरीबें…

2 months ago