सलमान अख़्तर

सलमान अख़्तर की रचनाएँ

दोस्ती कुछ नहीं उल्फ़त का सिला कुछ भी नहीं  दोस्ती कुछ नहीं उल्फ़त का सिला कुछ भी नहीं आज दुनिया…

1 month ago