‘हफ़ीज़’ जालंधरी

‘हफ़ीज़’ जालंधरी की रचनाएँ

ग़ज़लें आ ही गया वो मुझ को लहद में उतारने  आ ही गया वो मुझ को लहद में उतारने ग़फ़लत…

3 months ago