मैथिली

रूपम झा की रचनाएँ

निशाक बात नहि करू निशाक बात नहि करू ई अश्रुपात नहि करू चलू पहाड़ तोडिक हवाक वाट मोडि क इजोत…

2 weeks ago

कस्तूरी झा ‘कोकिल’ की रचनाएँ

प्रार्थना माँ सरस्वती! बसॅ हृदय में स्वीकार करॅ सुमन-चंदन। चरण-कमल रॅ दास बनाबॅ। सदा प्रार्थना शीश नमन। जे कुछ देखियै,…

2 months ago

एस. मनोज की रचनाएँ

जे छलै अभिशप्त मानव  जे छलै अभिशप्त मानव वैह एखन अछि लड़ि रहल श्वेदकण सँ सीचिंके ओ पेट सबहक भरि…

2 months ago