त्रिलोक सिंह ठकुरेला

त्रिलोक सिंह ठकुरेला की रचनाएँ

ऐसा वर दो  भगवन् हमको ऐसा वर दो। जग के सारे सद्गुण भर दो॥ हम फूलों जैसे मुस्कायें, सब पर…

3 months ago