हनुमानप्रसाद पोद्दार

हनुमानप्रसाद पोद्दार की रचनाएँ

पद-रत्नाकर / भाग- 1 श्रीराधारानी-चरन बिनवौं बारंबार श्रीराधारानी-चरन बिनवौं बारंबार। बिषय-बासना नास करि, करौ प्रेम-संचार॥ तुम्हरी अनुकंपा अमित, अबिरत अकल…

3 months ago