अब्दुल्लाह ‘जावेद’

अब्दुल्लाह ‘जावेद’ की रचनाएँ

अश्क ढलते नहीं देखे जाते  अश्क ढलते नहीं देखे जाते दिल पिघलते नहीं देखे जाते फूल दुश्मन के हों या…

3 months ago