अहमद अज़ीम

अहमद अज़ीम की रचनाएँ

अब सोचिये तो दाम-ए-तमन्ना में आ गए अब सोचिये तो दाम-ए-तमन्ना में आ गए दीवार ओ दर को छोड़ के…

3 months ago