आमिर उस्मानी

आमिर उस्मानी की रचनाएँ

दर्द बढ़ता गया जितने दरमाँ किए प्यास बढ़ती गई जितने आँसु पिए  दर्द बढ़ता गया जितने दरमाँ किए प्यास बढ़ती…

2 months ago