आलम खुर्शीद

आलम खुर्शीद की रचनाएँ

रंग-बिरंगे ख़्वाबों के असबाब कहाँ रखते हैं हम रंग-बिरंगे ख़्वाबों के असबाब कहाँ रखते हैं हम अपनी आँखों में कोई…

2 months ago