उमा शंकर सिंह परमार

उमा शंकर सिंह परमार की रचनाएँ

ये जो दिख रहे हैं  ये जो दिख रहे हैं इच्छाधारी लोग हैं जो लगातार अपनी कविताओं मे पूँजीवाद का…

2 months ago