गजानन माधव मुक्तिबोध

गजानन माधव मुक्तिबोध की रचनाएँ

घोर धनुर्धर, बाण तुम्हारा सब प्राणों को पार करेगा घोर धनुर्धर, बाण तुम्हारा सब प्राणों को पार करेगा तेरी प्रत्यंचा…

2 months ago