जेन्नी शबनम

जेन्नी शबनम की रचनाएँ

माँ पर हाइकु 1. तौल सके जो नहीं कोई तराजू माँ की ममता ! 2. समझ आई जब खुद ने पाई…

4 months ago