भूपेन्द्र नारायण यादव ‘मधेपुरी’

भूपेन्द्र नारायण यादव ‘मधेपुरी’की रचनाएँ

आदमी दिन में सूरज की रौशनी रात में बिजली की चकाचौंध आख़िर अंधेरा ! जाए तो जाए किधर ? सिमटकर दुबक गया…

3 months ago