मख़दूम मोहिउद्दीन

मख़दूम मोहिउद्दीन की रचनाएँ

आप की याद आती रही रात भर ‎ आप की याद आती रही रात भर चश्मे नम मुस्कुराती रही रात…

1 week ago