मधुभूषण शर्मा ‘मधुर’

मधुभूषण शर्मा ‘मधुर’की रचनाएँ

दस्तक अच्छी किसे न लगती, दर पे ख़ुशी की दस्तक इक ज़िन्दग़ी की आहट, इक रोशनी की दस्तक ! हो मुल्क…

2 weeks ago