मनु ‘बे-तख़ल्लुस’

मनु ‘बे-तख़ल्लुस’ की रचनाएँ

तेरी जिद से परीशां है तेरा ही आशना कोई, तेरी जिद से परीशां है तेरा ही आशना कोई हो मुश्किल…

2 weeks ago