शारिक़ कैफ़ी

शारिक़ कैफ़ी की रचनाएँ

इक दिन ख़ुद को अपने पास बिठाया हम ने  इक दिन ख़ुद को अपने पास बिठाया हम ने पहले यार…

2 months ago