कांतिमोहन ‘सोज़’

कांतिमोहन ‘सोज़’ की रचनाएँ

बोल मजूरे हल्ला बोल बोल मजूरे हल्ला बोल काँप रही सरमाएदारी खुलके रहेगी इसकी पोल बोल मजूरे हल्ला बोल ! ख़ून…

2 months ago