उषा राय की रचनाएँ

अरुणा शानबाग का कमरा क्या केवल एक पत्ता है अरुणा शानबाग का कमरा जो समय की हवा पाकर उड़ जाएगा…

12 months ago

उषारानी राव की रचनाएँ

देखा है मैंने श्वेत,शुभ्र बादलों का समूह अनेक आकृतियाँ बनाता है विलीन हो जाता है देखा है मैंने शिल्पी को…

12 months ago

उषा यादव उषा की रचनाएँ

बदली-बदली-सी है सारी तस्वीर आज  बदली-बदली-सी है सारी तस्वीर आज ख़ुद ही तोड़ी है औरत ने ज़ंजीर आज दर्दे दिल…

12 months ago

उषा यादव की रचनाएँ

तू सो जा, मेरी लाडली तू सो जा, हां सो जा, मेरी लाडली, मेरे घर की बगिया की नन्ही कली!…

12 months ago

उल्लास मुखर्जी की रचनाएँ

भ्रष्ट समय में कविता जब ईमानदार को समझा जाता हो बेवकूफ़ समयनिष्ठ को डरपोक, कर्तव्यनिष्ठ को गदहा, तब कविता लिखना-पढ़ना-सुनना…

12 months ago

उर्मिलेश की रचनाएँ

बेवजह दिल पे कोई  बेवजह दिल पे कोई बोझ न भारी रखिये ज़िन्दगी जंग है इस जंग को जारी रखिये…

12 months ago

उर्मिला शुक्ल की रचनाएँ

बनानी है चिडिय़ा  नहीं अभी नहीं होगा अवसान अभी तो मुझे मांगना है आकाश से खुलापन और धरती से दृढ़ता…

12 months ago

उर्मिला माधव की रचनाएँ

वो जो रह-रहके चोट कर जाए वो जो रह-रहके चोट कर जाए, अपने अलफ़ाज़ से मुकर जाए, आशिक़ी,इश्क एक फजीहत…

12 months ago

उर्मिल सत्यभूषण की रचनाएँ

आज़ादी  इक खुशबू का नाम है, आज़ादी प्रकाश उछल उछल भुज पाश में भर ले तू आकाश पवन आज़ाद डोलती,…

12 months ago

उर्फी आफ़ाक़ी की रचनाएँ

फिर क्या जो फूट फूट के ख़ल्वत में रोइए फिर क्या जो फूट फूट के ख़ल्वत में रोइए यकसर जहान…

12 months ago