तोष की रचनाएँ

गोपिन के अँसुवान के नीर गोपिन के अँसुवान के नीर पनारे बहे बहिकै भए नारे । नारे भए ते भई…

5 months ago

तोरनदेवी ‘लली’की रचनाएँ

नवसंवत यही सोचती हूँ नवसंवत्! कैसी होंगी तेरी- वे नई लहर की घड़ियाँ। जब सबके हृदयों में होगा, सहज आत्म-अभिमान।…

5 months ago

तेजेन्द्र शर्मा की रचनाएँ

टेम्स का पानी टेम्स का पानी, नहीं है स्वर्ग का द्वार यहां लगा है, एक विचित्र माया बाज़ार! पानी है…

5 months ago

तेजी ग्रोवर की रचनाएँ

क्या मालूम है तुम्हें क्या मालूम है तुम्हें पर्दे के पीछे बेतरह रूठ गई है वह उसकी मात्राएँ झाँकती हैं…

5 months ago

तेज राम शर्मा की रचनाएँ

फूल वाला माल रोड़ के उस छोर पर बैठता है फूल बेचने वाला अविरल बहती छोटी नदी के किनारों से…

5 months ago

तुषार धवल की रचनाएँ

छूटती चीज़ों के बीच छोड़ दिया तुमने भी जैसे कि सब चीज़ें छूट रही हैं नहीं थी पहले भी अब…

5 months ago

तुलसीराम शर्मा ‘दिनेश’की रचनाएँ

दोहा / भाग 1 लोट चुकी जिस पर विकल, मोर मुकुट की नोक। जो जन-मन-मल शेक हर, दायक दिव्यालोक।।1।। जिसमें…

5 months ago

तुलसी रमण की रचनाएँ

बच्चा खा रहा है रोटी गा रहा है जाड़े की लम्बी रातों बाबा से सुना गीत कर रहा है शौच…

5 months ago

तुलसी पिल्लई की रचनाएँ

लग जाए न कोई कलंक मेरे पास तुम्हारे लिए कुछ भी नहीं है तुमने मुझे प्रेम के रूप में अपना…

5 months ago

तुफ़ैल बिस्मिल की रचनाएँ

इक बहाना है तुझे याद किए जाने का इक बहाना है तुझे याद किए जाने का कब सलीक़ा है मुझे…

5 months ago