अकरम नक़्क़ाश

अकरम नक़्क़ाश की रचनाएँ

ऐ अब्र-ए-इल्तिफ़ात तिरा ए‘तिबार फिर ऐ अब्र-ए-इल्तिफ़ात तिरा ए‘तिबार फिर आँखों में फिर वो प्यास वही इंतिज़ार फिर रख्खूँ कहाँ…

3 months ago