‘अज़ीज़’ हामिद

‘अज़ीज़’ हामिद मदनी की रचनाएँ

दिलों की उक़दा-कुशाई का वक़्त है के नहीं दिलों की उक़दा-कुशाई का वक़्त है के नहीं ये आदमी की ख़ुदाई…

3 months ago