अनुप्रिया

अनुप्रिया की रचनाएँ

पहचान जब होती हूँ पंख उड़ जाते हो थामकर मुझे नीले विस्तार में जब होती हूँ ख़्वाब भर लेते हो…

3 months ago