‘अमीक’ हनफ़ी

‘अमीक’ हनफ़ी की रचनाएँ

ऐनक के दोनों शीशे ही अटे हुए थे  ऐनक के दोनों शीशे ही अटे हुए थे धूल में हाथ पड़…

2 months ago