अशअर नजमी

अशअर नजमी की रचनाएँ

अँधेरे में तजस्सुस का तक़ाज़ा छोड़ जाना है  अँधेरे में तजस्सुस का तक़ाज़ा छोड़ जाना है किसी दिन ख़ामुशी में…

3 months ago