विकास की रचनाएँ

हालात के लिहाज से ऊँचाइयाँ मिलीं हालात के लिहाज से ऊँचाइयाँ मिलीं लेकिन खुली किताब तो रुसवाइयाँ मिलीं ज़िन्दा नहीं…

2 months ago

क्रांति की रचनाएँ

पता नहीं क्या था मेरा, तुम्हारे पास आना तीर-बिंधे हंस का सिद्धार्थ के पास आना था; तुम्हारा मुझे देवव्रतों को…

2 months ago

कौशलेन्द्र शर्मा ‘अभिलाष’ की रचनाएँ

कैसी होगी मेरी पहली रचना रोज सुनूँ मैं अच्छी अच्छी बातें, मिलती थी नवचिंतन की सौगातें। मधुर मिलन की या…

2 months ago

कौशल्या गुप्ता की रचनाएँ

वह छुअन अनेकों ही छवि-चित्र लय और गीत, कथा-कहानी, समायी हैं चहुँ ओर। जतन जुटाते हैं लाखों पकड़ने को अपनी-अपनी…

2 months ago

कौशल किशोर की रचनाएँ

नई शुरुआत यह कविता मई 1974 की रेल हड़ताल के दौरान लिखी गई थी दादी सुना नहीं तुमने बाबूजी हड़ताल…

2 months ago

‘क़ैसर’-उल जाफ़री की रचनाएँ

बरसों के रत-जगों की थकन खा गई मुझे बरसों के रत-जगों की थकन खा गई मुझे सूरज निकल रहा था…

2 months ago

‘क़ैसर’ निज़ामी की रचनाएँ

आतिश-ए-सोज़-ए-मोहब्बत को बुझा सकता हूँ मैं  आतिश-ए-सोज़-ए-मोहब्बत को बुझा सकता हूँ मैं दीदा-ए-पुर-नम से इक दरिया बहा सकता हूँ मैं…

2 months ago

कैलाश वाजपेयी की रचनाएँ

ऐसा कुछ भी नहीं  ऐसा कुछ भी नहीं जिंदगी में कि हर जानेवाली अर्थी पर रोया जाए | काँटों बीच…

2 months ago

कुलदीप कुमार की रचनाएँ

वह चेहरा  आज फिर दिखीं वे आँखें किसी और माथे के नीचे वैसी ही गहरी काली उदास फिर कहीं दिखे…

2 months ago

कैलाश मनहर की रचनाएँ

गुलाब गुलाब को नहीं जानते आप और वह भी आपको नहीं जानता और सच्चाई तो यह है कि मैं भी…

2 months ago