कृष्ण बिहारी ‘नूर’

कृष्ण बिहारी ‘नूर’ की रचनाएँ

नज़र मिला न सके उससे  नज़र मिला न सके उससे उस निगाह के बाद। वही है हाल हमारा जो हो…

2 months ago