‘गुलनार’ आफ़रीन

‘गुलनार’ आफ़रीन की रचनाएँ

आँख में अश्क लिए ख़ाक लिए दामन में  आँख में अश्क लिए ख़ाक लिए दामन मेंएक दीवाना नज़र आता है…

2 months ago