छीतस्वामी की रचनाएँ

आगे गाय पाछें गाय इत गाय उत गाय आगे गाय पाछें गाय इत गाय उत गाय, गोविंद को गायन में…

3 months ago

छाया त्रिपाठी ओझा की रचनाएँ

वेदना वेदना तुम पास आकर इस हृदय का बल बनो अश्रु अंतस में हैं ठहरे दे रहे हैं घाव गहरे…

3 months ago

छवि निगम

. गुलाबो सिताबो फिर एक दिनकुछ यूँ बदली किस्मत कठपुतलियों की..गुलाबो ने सिताबो की आँखों में देखासिताबो ने कस कर…

3 months ago

छवि की रचनाएँ

तारे भये कारे तेरे नैन रतनारे भये तारे भये कारे तेरे नैन रतनारे भये , मोती भये सीरे तू न…

3 months ago

छत्रनाथ की रचनाएँ

जय, देवि, दुर्गे, दनुज गंजनि जय, देवि, दुर्गे, दनुज गंजनि, भक्त-जन-भव-भार-भंजनि, अरुण गति अति नैन खंजनि, जय निरंजनि हे। जय,…

3 months ago

छगनलाल सोनी की रचनाएँ

माँ माँतुम्हें पढ़करतुम्हारी उँगली की धर कलमगढ़ना चाहता हूँतुम सी ही कोई कृति तुम्हारे हृदय के विराट विस्तार मेंपसरकर सोचता…

3 months ago