फना’ निज़ामी कानपुरी

फना’ निज़ामी कानपुरी की रचनाएँ

ऐ हुस्न ज़माने के तेवर भी तो समझा कर ऐ हुस्न ज़माने के तेवर भी तो समझा कर अब ज़ुल्म…

3 months ago