बशीर बद्र

बशीर बद्र की रचनाएँ

अगर तलाश करूँ कोई मिल ही जायेगाद अगर तलाश करूँ कोई मिल ही जायेगा मगर तुम्हारी तरह कौन मुझे चाहेगा…

7 months ago