बेकल उत्साही

बेकल उत्साही की रचनाएँ

ये दुनिया तुझसे मिलने का वसीला काट जाती है ये दुनिया तुझसे मिलने का वसीला काट जाती है ये बिल्ली…

1 week ago