मदन डागा

मदन डागा की रचनाएँ

सही ज़मीन आपकी इस्लाह के लिए शुक्रिया मुझे आपकी बात की इसलिए परवाह नहीं क्योंकि मेरे पाँव सही ज़मीन पर…

2 weeks ago