मनोहर वर्मा

मनोहर वर्मा की रचनाएँ

कहाँ लड़ाई किसने खाई अरे मलाई? ‘तूने’ - ‘तूने’ ‘तूने’ - ‘तूने’ शुूरू लड़ाई तू-तू, मैं-मैं हाथापाई! अम्मा बोली- ‘काली…

1 week ago