यमुना प्रसाद चतुर्वेदी ‘प्रीतम’

यमुना प्रसाद चतुर्वेदी ‘प्रीतम’ की रचनाएँ

श्री गुरु पद नख वन्दना सोभित सलौने सुभ्र सरस सुधा सों सने, सील सिंधु रूप लसें जिन सम चन्द ना।…

1 month ago