रमेश ‘कँवल’

रमेश ‘कँवल’की रचनाएँ

जुनूं हूँ, आशिकी हूँ जुनूं हूं, आशिक़ी हूं बशर हूं, बंदगी हूं ब-ज़ाहिर बेरुखी हूं वफ़ा की बेबसी हूं गुलों…

3 weeks ago