रवि ज़िया

रवि ज़िया की रचनाएँ

जब लफ़्ज़ थक गए तो सहारा नहीं दिया जब लफ़्ज़ थक गए तो सहारा नहीं दिया ख़ामोशियों ने साथ हमारा…

3 weeks ago