विद्यापति ठाकुर

विद्यापति ठाकुर की रचनाएँ

एत जप-तप हम की लागि कयलहु एत जप-तप हम की लागि कयलहु, कथि लय कयल नित दान। हमर धिया के…

2 months ago