शैलेन्द्र सिंह दूहन

शैलेन्द्र सिंह दूहन की रचनाएँ

आ अधरों पे तू ही तू है  हर मौसम की तू खुशबू है। आ अधरों पे तू ही तू है।…

2 months ago