‘खावर’ जीलानी की रचनाएँ

अता के रोज़-ए-असर से भी टूट सकती थी अता के रोज़-ए-असर से भी टूट सकती थी वो शाख़ बार-ए-समर से…

12 months ago

खेम की रचनाएँ

भूषण स्वेत महा छवि सुंदर सानि सुवास रची सब सोने भूषण स्वेत महा छवि सुंदर सानि सुवास रची सब सोने…

12 months ago

खातिर ग़ज़नवी की रचनाएँ

आरज़ूएँ ना-रसाई रू-ब-रू मैं और तू  आरज़ूएँ ना-रसाई रू-ब-रू मैं और तू क्या अजब क़ुर्बत थी वो भी मैं न…

12 months ago

ख़्वाजा हैदर अली ‘आतिश’ की रचनाएँ

दोस्त हो जब दुश्मने-जाँ  दोस्त हो जब दुश्मन-ए-जाँ तो क्या मालूम हो आदमी को किस तरह अपनी कज़ा मालूम हो…

12 months ago

ख़्वाजा मीर दर्द की रचनाएँ

तुहमतें चन्द अपने ज़िम्मे धर चले तुहमतें चन्द अपने ज़िम्मे धर चले किसलिए आये थे हम क्या कर चले ज़िंदगी…

12 months ago

ख़्वाजा जावेद अख़्तर की रचनाएँ

आँखों में बीज ख़्वाब का बोने नहीं दिया  आँखों में बीज ख़्वाब का बोने नहीं दिया इक पल भी उस…

12 months ago

ख़ुशबीर सिंह ‘शाद’ की रचनाएँ

अब अँधेरों में जो हम ख़ौफ़-ज़दा बैठे हैं  अब अँधेरों में जो हम ख़ौफ़-ज़दा बैठे हैं क्या कहें ख़ुद ही…

12 months ago

ख़ुर्शीद-उल-इस्लाम की रचनाएँ

इंक़िलाब  वो कारवान-ए-गुल-ए-ताज़ा जिस के मुज़्दे से दिमाग़-ए-इश्क़ मोअत्तर है और फ़ज़ा मामूर दिलों से कितना क़रीं है नज़र से…

12 months ago

ख़ुर्शीद अहमद ‘जामी’ की रचनाएँ

ऐ इंतिज़ार-ए-सुब्ह-ए-तमन्ना ये क्या हुआ  ऐ इंतिज़ार-ए-सुब्ह-ए-तमन्ना ये क्या हुआ आता है अब ख़याल भी तेरा थका हुआ पहचान भी…

12 months ago

ख़ुर्शीद अकरम की रचनाएँ

अक़्ल बड़ी बे-रहम थी दिल को उस के दुख की घड़ी में तन्हा छोड़ दिया जिस्म ने लेकिन साथ दिया…

12 months ago