व्योमेश शुक्ल ’की रचनाएँ

जस्ट टियर्स [ इस लम्बी कविता में दर्ज़ लोग और भूगोल, दर्द और दिक्क़तें नई नहीं हैं, नया है वह…

11 months ago

वेणु गोपाल ’की रचनाएँ

अंधेरा मेरे लिए रहती है रोशनी लेकिन दिखता है अंधेरा तो कसूर अंधेरे का तो नहीं हुआ न! और न…

11 months ago

वेंकटेश चन्द्र पाण्डेय ’की रचनाएँ

नन्हा पौधा  एक बीज था गया बहुत ही, गहराई में बोया उसी बीज के अंतर में था नन्हा पौधा सोया…

11 months ago

वृन्दावनलाल वर्मा ’की रचनाएँ

आगे चले चलो अपवाद भय या कीर्ति प्रेम से निरत न हो, यदि ख़ूब सोच-समझ कर मार्ग चुन लिया। प्रेरित…

11 months ago

वृन्द ’की रचनाएँ

वृन्द के दोहे / भाग १ नीति के दोहे रागी अवगुन न गिनै, यहै जगत की चाल । देखो, सबही…

11 months ago

वृंदावनदास’की रचनाएँ

प्रीतम तुम मो दृगन बसत हौ प्रीतम तुम मो दृगन बसत हौ। कहा भरोसे ह्वै पूछत हौ, कै चतुराई करि…

11 months ago

वीरेश्वर सिंह ‘विक्रम’की रचनाएँ

प्यारे फूल प्यारे फूल! प्यारे फूल! कल तो तुम चुनमुनिया-से थे आज भला कैसे बढ़ आए? ऐसी महक और रंग…

11 months ago

वीरेन्द्र खरे ‘अकेला’ की रचनाएँ

भूल कर भेदभाव की बातें भूल कर भेदभाव की बातें आ करें कुछ लगाव की बातें जाने क्या हो गया…

11 months ago

वीरेन्द्र कुमार जैन की रचनाएँ

सौन्दर्य का एक क्षण सर्दी की सुबह : कॉलेज के बरामदे में, ताश-चिड़ियानुमा जाली, उसमें झलमलाती हरियाली पत्राली : इस ओर चिड़ियों…

11 months ago

वीरेन डंगवाल की रचनाएँ

अकेला तू तभी तू तभी अकेला है जो बात न ये समझे हैं लोग करोडों इसी देश में तुझ जैसे…

11 months ago